Aaj Bheegi Hain Palke

Aaj Bheegi Hain Palke

Aaj Bheegi Hain Palke Kisi Ki Yaad Me,
Aakash Bhi Simat Gaya Hai Apne Aap Me,
Osh Ki Boond Aisi Giri Hain Zameen Par,
Mano Chand Bhi Roya Ho Unki Yaad Me.

आज भीगी है पलके किसी की याद में,
आकाश भी सिमट गया हैं अपने आप में,
ओस की बूँद ऐसी गिरी है ज़मीन पर,
मानो चाँद भी रोया हो उनकी याद में।

yaad shayari hindi

Unse Milne Ko Jo Socho Ab Wo Zamana Nahi,
Ghar Bhi Kaise Jaun Ab Wo Koi Bahana Nahi,
Mujhe Yaad Rakhna Kahin Tum Bula Nahi Dena,
Mana Ke Barson Se Teri Gali Me Anaa Jana Nahi,

उनसे मिलने को जो सोचों अब वो ज़माना नहीं;
घर भी कैसे जाऊं अब तो कोई बहाना नहीं,
मुझे याद रखना कहीं तुम भुला न देना;
माना के बरसों से तेरी गली में आना-जाना नहीं।

Umr Ki Rah Me Raste Badal Jaate Hain,
Waqt Ki Aandhi Me Insaan Badal Jaate Hain,
Sochte Hain Tumhen Itna Yaad Na Karen Lekin,
Aankh Band Karte Hi Khayalaat Badal Jate Hain,

उम्र की राह में रास्ते बदल जाते हैं,
वक़्त की आंधी में इंसान बदल जाते हैं,
सोचते हैं तुम्हें इतना याद न करे लेकिन,
आँख बंद करते ही ख़यालात बदल जाते हैं।

Leave a Comment