Aansu Humare Ponchh Kar

Aansu Humare Ponchh Kar

Aansu Humare Ponchh Kar Wo Muskurate Hain,
Isee Adaa Se Wo Mera Dil Churate Hain,
Haath Unka Chhu Jaye Humare Chehre Ko,
Isi Ummid Me Hum Khud Ko Rulate Hain.

आँसू हमारे पोंछ कर वो मुस्कराते हैं,
इसी अदा से वो मेरा दिल चुराते हैं,
हाथ उनका छू जाये हमारे चेहरे को,
इसी उम्मीद में हम खुद को रुलाते हैं।

Jab Jab Aapse Milne Ki Ummid Nazar Aayi,
Mere Paanv Mein Zanjeer Nazar Aayi,
Gir Pade Aansu Aankh Se,
Aur Har Ek Aansu Mein Aapki Tasveer Nazar Aayi.

जब जब आपसे मिलने की उम्मीद नजर आयी,
मेरे पाँव में ज़ंजीर नजर आयी,
गिर पड़े आँसू आँख से,
और हर एक आँसू में आपकी तस्वीर नजर आयी।

Yun Kisi Ki Yaad Mein Rona Fizool Hai,
Itne Anmol Aansu Khona Fizool Hai,
Rona To Unke Liye Jo Hum Par Nisaar Hain,
Unke Liye Kya Rona Jinke Aashiq Hazaar Hain.

यूँ किसी की याद में रोना फ़िज़ूल है,
इतने अनमोल आँसू खोना फिज़ूल हैं,
रोना तो उनके लिए जो हम पर निशार है,
उनके लिए क्या रोना जिनके आशिक हज़ार हैं।

Leave a Comment