Apne Hi Kafi Hain

Apne Hi Kafi Hain

Ye Kah Kar Mere Dushman Muje Chorh Gaye,
Ke Tere Apne Hi Kafi Hain Tujhe Rulane Ke Liye.

ये कह कर मेरे दुश्मन मुझे छोड़ गए,
कि तेरे अपने ही काफी हैं तुझे रुलाने के लिए।

Leave a Comment