Apni Aukaat Me Rahen Attitude Shayari

Apni Aukaat Me Rahen Attitude Shayari

Shankhon Se Gir Kar Toot Jaaun Main Wo Patta Nahi,
Aandhiyon Se Kah Do Ki Apni Aukaat Me Rahen.

शांखो से गिर कर टूट जाऊ मै वो पत्ता नही,
आंधियो से कह दो कि अपनी औकात मे रहें।

Naaz Kya Karen Is Par Badla Zamane Ne Tumhen,
Ham Hain Vo Jo Zamane Ko Badal Dete Hain.

नाज़ क्या करें इस पर बदला ज़माने ने तुम्हें,
हम हैं वो जो ज़माने को बदल देते हैं।

Ehsaan Ye Raha Tohmat Lagane Walon Ka Ham Par,
Uthti Ungliyon Ne Hamen Mashoor Kar Diya.

एहसान ये रहा तोहमत लगाने वालों का हम पर,
उठती उँगलियों ने हमें मशहूर कर दिया।

Main Kyun Kuchh Soch Kar Dil Chhota Karun,
Wo Utni Hi Kar Saki Wafa Jitni Uski Aukaat Thi.

मैं क्यूँ कुछ सोच कर दिल छोटा करूँ,
वो उतनी ही कर सकी वफ़ा जितनी उसकी औकात थी।

Pichhle Baras Tha Khauf Ki Tujhko Kho Na Dun,
Ab Ke Baras Ye Dua Hai Ki Tera Samna Na Ho.

पिछले बरस था खौफ की तुझको खो ना दूँ कही,
अब के बरस ये दुआ है की तेरा सामना ना हो।

Akadti Ja Rahi Hain Har Roj Gardan Ki Nasen,
Aaj Tak Nahin Aaya Hunar Sar Jhukane Ka.

अकड़ती जा रही हैं हर रोज गर्दन की नसें,
आज तक नहीं आया हुनर सर झुकाने का।

Leave a Comment