Apno Ko Aajmana

Apno Ko Aajmana

Takleefe To Hazaaro Hain Jamane Me,
Bus Koi Apna Najar Andaaz Kare To Bardast Nahin Hota.

तकलीफें तो हज़ारों हैं इस ज़माने में,
बस कोई अपना नज़र अंदाज़ करे तो बर्दाश्त नहीं होता।

Gairo Se Mohabbat Hone Lagi Hai Aaj Kal Mujhe,
Jaise Jaise Apno Ko Aajmata Ja Raha Hun.

गैरों से मुहब्बत होने लगी है आजकल मुझे,
जैसे जैसे अपनों को आजमाता जा रहा हूँ।

Jara Si Baat Par Barson Ke Yarane Gaye,
Magar Itna To Hua Kuch Log Pahchane Gaye.

जरा सी बात पर बरसों के याराने गए,
मगर इतना तो हुआ कि कुछ लोग पहचाने गए।

Leave a Comment