Bachpan Ki Tarha

Bachpan Ki Tarha

Zindagi Phir Na Muskurai Kabhi Bachpan Ki Tarah,
Maine Mitti Bhi Jama Ki Khilone Bhi Lekar Dekhe.

ज़िन्दगी फिर न मुस्कराई कभी बचपन की तरह,
मैंने मिटटी भी जमा की खिलौने भी लेकर देखे।

Leave a Comment