Broken Heart Shayari, Tumhe Na Chubh Jaye

Broken Heart Shayari, Tumhe Na Chubh Jaye

Is Dil Se Khel To Rahe Ho, Par Jara Sambhal Ke,
Ye Jara Toota Hua Hai Kaheen Tumhe Hi Na Chubh Jaye.

इस दिल से खेल तो रहे हो, पर जरा सम्भल के,
ये जरा टूटा हुआ है कहीं तुम्हे ही ना चुभ जाए।

Heart Broken Shayari - Kahin Tumhen Na Chubh Jaye

Tum Kaho Aur Main Na Sunu Aise To Halaat Nahin,
Ek Jara Sa Dil Toota Hai, Aur To Koi Baat Nahin.

तुम कहो और मैं न सुनु ऐसे तो हालात नहीं,
एक जरा सा दिल टूटा है, और तो कोई बात नहीं।

Koshish Bhi Mat Karna, Mujhe Sambhalne Ki Ab Tum,
Be-Hisaab Toota Hoon… Jee Bhar Ke Bikhar Jane Do Mujhe.

कोशिश भी मत करना, मुझे संभालने की अब तुम,
बे-हिसाब टूटा हूँ… जी भर के बिखर जाने दो मुझे।

Badi Shiddat Se Toda Hai Mere Dil Ka Har Kona,
Mujhe To Sach Kahoon Us Ke Hunar Pe Naaz Hota Hai.

बड़ी शिद्दत से तोड़ा है मेरे दिल का हर कोना,
मुझे तो सच कहूँ उस के हुनर पे नाज़ होता है।

Kuchh Mohabbat Ka Nasha Tha Pahle Hamko,
Dil Jo Toota To Nashe Se Mohabbat Ho Gayi.

कुछ मोहब्बत का नशा था पहले हमको,
दिल जो टूटा तो नशे से मोहब्बत हो गई।

Abhi To Choor-Choor Hi Huye Hain Tere Ishq Mein,
Mere Bikharne Ka Khel To Abhi Baki Hai.

अभी तो चूर-चूर ही हुए है तेरे इश्क में,
मेरे बिखरने का खेल तो अभी बाकी है।

Leave a Comment