Chilman Se Lage Baithe Hain

Chilman Se Lage Baithe Hain

Khoob Parda Hai Ki Chilman Se Lage Baithe Hain,
Saaf Chupte Bhi Nahin Samne Aate Bhi Nahin.

ख़ूब पर्दा है कि चिलमन से लगे बैठे हैं,
साफ़ छुपते भी नहीं सामने आते भी नहीं।

Har Najar Me Mumkin Nahi Hai Be-Gunaah Rahna,
Vaada Ye Karein Ke Khud Ki Najar Me Bedaag Rahein.

हर नजर में मुमकिन नहीं है बे-गुनाह रहना,
वादा ये करें कि खुद की नजर में बेदाग रहें।

Log Padh Lete Hani Meri Aankhon Me Tere Pyaar Ki Shiddat,
Mujhae Tere Ishq Ki Ab Aur Hifaazat Nahi Hoti.

लोग पढ़ लेते है मेरी आँखों मे तेरे प्यार की शिद्दत,
मुझसे तेरे इश्क़ की अब और हिफाज़त नही होती।

Sookhe Patte Bheegne Lage Hain, Aramanon Ki Tarah,
Mausam Phir Badal Gaya… Insaano Ki Tarah.

सूखे पत्ते भीगने लगे हैं, अरमानों की तरह,
मौसम फिर बदल गया… इंसानों की तरह।

Leave a Comment