Dard Likhte Hain

Dard Likhte Hain

Kamaal Ka Jigar Rakhte Hain Kuchh Log,
Dard Likhte Hain Aur Aah Tak Nahi Karte.

कमाल का जिगर रखते हैं कुछ लोग,
दर्द लिखते हैं और आह तक नहीं करते।

Leave a Comment