Dekhi Hain Kai Mahfil

Dekhi Hain Kai Mahfil

Sajti Rahe Khushiyon Ki Mahfil,
Har Mahfil Khushi Se Suhani Bani Rahe,
Aap Zindagi Me Itne Khush Rahen Ki,
Khushi Bhi Aapki Deewani Bani Rahe.

सजती रहे खुशियों की महफ़िल,
हर महफ़िल ख़ुशी से सुहानी बनी रहे,
आप ज़िंदगी में इतने खुश रहें कि,
ख़ुशी भी आपकी दीवानी बनी रहे

Mahfil Me Kuch To Sunana Pardta Hai,
Gam Chhupa Kar Muskurana Padta Hai,
Kabhi Hum Bhi Unke Ajiz The,
Aaj Kal Ye Bhi Unhen Yaad Dilana Padta Hai.

महफ़िल में कुछ तो सुनाना पड़ता है,
ग़म छुपा कर मुस्कुराना पड़ता है,
कभी हम भी उनके अज़ीज़ थे,
आज-कल ये भी उन्हें याद दिलाना पड़ता है।

Dekhi Hain Kai Mahfil,
Ye Fiza Kuch Aur Hai,
Dekhe Hain Jalve Bahut,
Ye Adaa Kuch Aur Hai,
Piye To Jaam Bahut Hain Hamne,
Par Apka Nasha Kuch Aur Hai.

देखी हैं कई महफिलें,
ये फ़िज़ा कुछ और है,
देखे हैं जलवे बहुत,
ये अदा कुछ और है,
पिए तो बहुत जाम हैं हमने,
पर आपका नशा कुछ और है।

Leave a Comment