Dil Se Juda Hona Hai

Dil Se Juda Hona Hai

Itna Betaab Na Ho Mujhse Bichhadne Ke Liye,
Tujhe Aankhon Se Nahi Mere Dil Se Juda Hona Hai.

इतना बेताब न हो मुझसे बिछड़ने के लिए,
तुझे आँखों से नहीं मेरे दिल से जुदा होना है।

juda shayari

Hum Tumhen Pakar Khona Nahi Chahte,
Judai Me Aapki Rona Nahi Chahate,
Tum Hamare Hi Rahna Nahi Chahte,
Hum Kisi Aur Ke Hona Nahi Chahte.

हम तुम्हें पाकर खोना नहीं चाहते,
जुदाई में आपकी रोना नहीं चाहते,
तुम हमारे ही रहना हमेशा,
हम किसी और के होना नहीं चाहते।

Ye Kaisi Judai Hai Aankh Meri Bhar Aai Hai,
Sawan Ki Har Ek Barsti Boond Me Teri Hi Parchhai Hai,
Is Haseen Mausom Me Fir Kyun Ye Judai Hai.

ये कैसी जुदाई है आँख मेरी भर आई है,
सावन की हर एक बरसती बूंद में तेरी ही परछाईं है,
इस हसीन मौसम में फिर क्यों ये जुदाई है।

Hum Jaante Hain Ke Kaise Khuda Se,
Tujhe Manga Hai Humne Ai Yaar Mere,
Teri Judai Ab Main Sahunga Nahi,
Sada Kareeb Rahna Dilbar Mere.

हम जानते हैं के कैसे खुदा से,
तुझे माँगा है हमने ऐ यार मेरे,
तेरी जुदाई अब मैं सहूंगा नहीं,
सदा करीब रहना दिलबर मेरे।

Leave a Comment