Gale Me Nimbu-Mirch

Gale Me Nimbu-Mirch

Bahut Khoobsurat Ho Tum Phool Ki Tareh,
Khud Ko Duniya Ki Nazar Se Bachaya Karo,
Sirf Aankhon Me Kajal Hi Kafi Nahi,
Gale Me Nimbu-Mirch Bhi Latkaya Karo.

बहुत खूबसूरत हो तुम फूल की तरह,
खुद को दुनिया की नजर से बचाया करो,
सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं,
गले में निम्बू मिर्ची भी लटकाया करो।

Leave a Comment