Gam Bhi Khareed Lete

Gam Bhi Khareed Lete

Gham Khareed Lete Shayari

Iss Shaher Mein Hum Jaisa Saudagar Kahah Milega Yaaron,
Hum Gam Bhi Khareed Lete Hai Kisi Ki Khushi Ke Liye.

इस शहर में हम जैसा सौदागर कहाँ मिलेगा यारो,
हम गम भी खरीद लेते हैं किसी की खुशी के लिए।

Leave a Comment