Gam Hai Har Ek Ko

Gam Hai Har Ek Ko

Gam To Hai Har Ek Ko
Magar Hausle Hain Juda Juda,
Koi Toot Kar Bikhar Gaya
Koi Muskura Ke Chal Diya.

गम तो है हर एक को
मगर हौसले हैं जुदा जुदा,
कोई टूट कर बिखर गया
कोई मुस्कुरा के चल दिया।

Roothi Jo Zindagi To Mana Lenge Hum,
Mile Jo Gam Wo Sah Lenge Hum,
Bas Aap Rahna Sath Humare,
To Nikalte Huye Aansuon Me Bhi
Muskura Lenge Hum.

रूठी जो ज़िंदगी तो मना लेंगे हम,
मिले जो ग़म वो सह लेंगे हम,
बस आप रहना हमेशा साथ हमारे,
तो निकलते हुए आंसूओं में भी,
मुस्कुरा लेंगे हम।

Leave a Comment