Gam Ne Jeene Na Diya

Gam Ne Jeene Na Diya

Maut-o-Hasti Ki KashmKash Me Kati Tamaam Umr,
Gam Ne Jeene Na Diya Shauq Ne Marne Na Diya.

मौत-ओ-हस्ती की कश्मकश में कटी तमाम उम्र,
ग़म ने जीने न दिया शौक़ ने मरने न दिया।

Jinki Aankhen Aansuon Se Nam Nahi,
Kya Samjhte Ho Ki Unhe Koi Gam Nai,
Tum Tadap Kar Ro Bhi Diye To Kya Hua,
Gam Chhupa Kar Hansne Wale Bhi Kam Nahi.

जिनकी आँखें आँसुओं से नम नहीं,
क्या समझते हो कि उन्हें कोई ग़म नहीं,
तुम तड़प कर रो भी दिए तो क्या हुआ,
ग़म छुपा कर हँसने वाले भी कम नहीं।

Teri Duniya Me Jeeene Se To Behtar Hai Ki Mar Jaayen,
Bahi Aansu Bahi Aanhen, Bahi Gam Hai Jidhar Jayen,
Koi To Aisa Hota Jahan Se Pyar Mil Jata,
Bahi Begane Chehre Hain Jahan Jayen Jidhar Jaayen.

तेरी दुनिया में जीने से तो बेहतर हैं कि मर जायें,
वही आँसू, वही आहें, वही ग़म है जिधर जायें,
कोई तो ऐसा घर होता जहाँ से प्यार मिल जाता,
वही बेगाने चेहरे हैं जहाँ जायें जिधर जायें।

Leave a Comment