Gam Se Umr Ka Rishta

Gam Se Umr Ka Rishta

Humne Socha Ke Do Char Din Ki Baat Hogi Lekin,
Tere Gam Se To Umr Bhar Ka Rishta Nikal Aaya.

हमने सोचा के दो चार दिन की बात होगी लेकिन,
तेरे ग़म से तो उम्र भर का रिस्ता निकल आया।

gham shayari

Gam-e-Duniya Me Gam-e-Yaar Bhi Shamil Kar Lo,
Nashaa Barhta Hai Sharabein Jo Sharabon Se Mile.

गम-ए-दुनिया में गम-ए-यार भी शामिल कर लो,
नशा भरता है शराबें जो शराबों से मिले।

Insan Agr Mohabbat Me Pade To Gam Me Pad Hi Jata Hai,
Kyuki Mohabbat Kisi Ko Chahe Jitna Karo, Kam Pad Hi Jata Hai.

इंसान अगर मोहब्बत में पड़े तो ग़म में पड़ ही जाता है,
क्योंकि मोहब्बत किसी को चाहे जितना भी करो, थोड़ा सा तो कम पड़ ही जाता है।

Leave a Comment