Hindi Yaad Shayari, Rulayegi Mujhe Bahut

Hindi Yaad Shayari, Rulayegi Mujhe Bahut

Ye Kasmein Ye Rasmein Ye Zamane Ka Darr,
Rulayegi Mujhe Bahut Teri Yaad Umar Bhar.

ये कसमें ये रस्में ये ज़माने का डर,
रुलाएगी मुझे बहुत तेरी याद उमर भर।

Ek Arzoo Si Hai Ki Unhe Hool Jayen Hum,
Magar Unki Yaadon Ke Aage To Ye Hasrat Bhi Haar Jati Hai.

एक आरज़ू सी है कि उन्हें भूल जाएँ हम,
मगर उनकी यादों के आगे तो यह हसरत भी हार जाती है।

Kaisa Waqt Hai Yeh Use Fursat Nahi Mujhe Yaad Karne Ki,
Kabhi Wo Shakhs Meri Hi Saanso Se Jiya Karta Tha.

कैसा वक़्त है यह, उसे फुर्सत नहीं मुझे याद करने की,
कभी वो शख्स मेरी ही सांसों से जिया करता था।

Leave a Comment