Inn Dino Dil Apna

Inn Dino Dil Apna

Inn Dino Dil Apna Sakht Be-Aaram Rehta Hai,
Isi Haalt Me Lekar Subah Se Shaam Rehta Hai.

इन दिनों दिल अपना सख्त बे-आराम रहता है,
इसी हालत में लेकर सुबह से शाम रहता है।

In Dino Dil Apna - Dil Shayari

Dil Abaad Kahan Rah Paye Uski Yaad Bhula Dene Se,
Kamra Veeran Ho Jata Hai Ik Tasveer Hata Dene Se.

दिल आबाद कहाँ रह पाए उसकी याद भुला देने से, 
कमरा वीरान हो जाता है इक तस्वीर हटा देने से।

Dil Bhi Pagal Hai Ki Us Shakhs Ae Juda Hai,
Jo Kisi Aur Ka Hone Na De Na Apna Rakhe.

दिल भी पागल है कि उस शख़्स से जुड़ा है,
जो किसी और का न होने दे न अपना रखे।

Dil Ka Kya Haal Kahun Subah Ko Jab Us But Ne,
Le Ke Angdrai Kaha Naaj Se Hum Jaate Hain,

दिल का क्या हाल कहूँ सुबह को जब उस बुत ने, 
ले के अंगड़ाई कहा नाज़ से हम जाते हैं।

Dil Ka Sara Dard Simat Aaya Hai Paani Ki Boondo Me,
Kitne Taajmahel Doobenge Paani Ki In Boondo Me.

दिल का सारा दर्द सिमट आया है मेरी पलकों में,
कितने ताज महल डूबेंगे पानी की इन बूँदों में।

Leave a Comment