Khwahisho Se Nahin Girte

Khwahisho Se Nahin Girte

“Khwahisho” Se Nahin Girte Hain, “Phool” Jholi Me,
Karm Ki Saakh Ko Hilana Hota Hai,
Kuch Nahin Hoga Kosne Se Kismat Ko,
Apne Hisse Ka Diya Khud Hi Jalana Hoga,

“ख्वाहिशों” से नही गिरते हैं, “फूल” झोली में,
कर्म की साख़ को हिलाना होगा,
कुछ नही होगा कोसने से किस्मत को,
अपने हिस्से का दीया ख़ुद ही जलाना होगा।

New Motivational Shayari

Ro Kar Muskurane Ka Maja Hi Kuchh Aur Hota Hai,
Zindagi Me Kuchh Kho Kar Pane Ka Maja Hi Kuchh Aur Hota Hai,
Zindagi Me Haar Aur Jeet To Lagi Rahati Hai,
Lekin Haar Ke Jeetne Ka Maja Hi Kuchh Aur Hota Hai.

रो कर मुस्कुराने का मजा ही कुछ और होता है,
जिंदगी में कुछ खो कर पाने का मजा ही कुछ और होता है,
ज़िन्दगी में हार और जीत तो लगी रहती है,
लेकिन हार के जीतने का मजा ही कुछ और होता है।

Leave a Comment