Lamha Mere Pas Nahin

Lamha Mere Pas Nahin

Tera Milna, Mere Liye Khwab Sa Sahi,
Par Tujhe Bhulun Aisa Koi Lamha Mere Pas Nahin.

तेरा मिलना, मेरे लिए ख्वाब सा सही,
पर तुझे भूलूँ मैं ऐसा कोई लम्हा मेरे पास नहीं।

Khayalo Me Beet Raha, Har Lamha Tera Hai,
Asliyat Bhi Teri Thi, Khayal Bhi Tera Hai.

ख्यालों में बीत रहा, हर लम्हा तेरा है,
असलियत भी तेरी थी, ख्याल भी तेरा है।

Humne Hi Barso Laga Diye,
Warna Ek Lamha Kaafi Tha Tujhe Bhool Jaane Ko.

हमने ही बरसों लगा दिए,
वरना एक लम्हा काफी था तुझे भूल जाने को।

Wo Lamha Lamha Hum Me Ghulti Rahi,
Hum Beparwah Sada Hum Hi Rahe.

वो लम्हा लम्हा हम में घुलती रही,
तुम बेपरवाह सदा तुम ही रहे।

Leave a Comment