Maa Jannat Ka Ek Phool

Maa Jannat Ka Ek Phool

Maa Shayari in Hindi - Jannat Ka Phool

Maa To Jannat Ka Ek Phool Hai,
Pyaar Karna Hi Uska Usool Hai,
Duniya Ki Mohabbat Fijool Hai,
Maa Ki Har Dua Kabool Hai,
Maa Ko Naraaj Karna Insaan Teri Bhul Hai.
Maa Ke Kadmo Ki Mitti Jannat Ki Dhool Hai.

माँ तो जन्नत का एक फूल है,
प्यार करना ही उसका उसूल है,
दुनिया की मोहब्बत फ़िज़ूल है,
माँ की हर दुआ कबूल है,
माँ को नाराज करना इन्सान तेरी भूल है,
माँ के क़दमों की मिटटी जन्नत की धूल है।

Leave a Comment