Mohabbat Gunaah Hai

Mohabbat Gunaah Hai

Aansu Aa Jate Hain Rone Se Pahle,
Khwab Toot Jate Hain Sone Se Pehle,
Log Kehte Hain Mohabbat Gunaah Hai,
Kaash Koi Rok Leta Ise Hone Se Pahle.

आँसू आ जाते हैं रोने से पहले,
ख्वाब टूट जाते हैं सोने से पहले,
लोग कहते हैं मोहब्बत गुनाह है,
काश कोई रोक लेता इसे होने से पहले।

Kaash Koi Rok Leta, Kaash Shayari

Mere Wajood Mein Kaash Tu Utar Jaye,
Main Dekhu Aaina Or Tu Nazar Aaye,
Tu Ho Samne Aur Waqt Thehar Jaye Aur
Ye Zindagi Tujhe Dekhte Hue Guzar Jaye

मेरे वजूद में काश… तू उतर जाए,
मैं देखूं आइना और तू नजर आये,
तू हो सामने और वक़्त ठहर जाए, और
ये ज़िन्दगी तुझे देखते हुए गुजर जाए।

Shiddat Se Chaha Hai Jise Maine,
Sirf Uski Mohabbat Ki Tamanna Ki Hai,
Ai Kaash Har Lamhe Pe Koi Aameen Kahe,
Kyuki Har Saans Ne Use Paane Ki Dua Ki Hai.

शिद्दत से चाहा है जिसे मैंने,
सिर्फ उसकी मोहब्बत की तमन्ना की है,
ऐ काश हर लम्हे पर कोई आमीन कहे,
क्योंकि हर सांस ने उसे पाने की दुआ की है।

Leave a Comment