Mohabbat Ka Jaam

Mohabbat Ka Jaam

Labo Par Lafz Bhi Ab Teri Talab Leke Aate Hain,
Tere Jikr Se Mahkte Hain Tere Sajde Me Bikahar Jate Hain.

लबो पर लफ्ज़ भी अब तेरी तलब लेकर आते हैं,
तेरे जिक्र से महकते हैं तेरे सजदे में बिखर जाते हैं।

Wo Pila Kar Jaam Labon Se Apni Mohabbat Ka,
Ab Kahte Hain Nashe Ki Adat Achhi Nahi Hoti.

वो पिला कर जाम लबों से अपनी मोहब्बत का,
अब कहते हैं नशे की आदत अच्छी नहीं होती।

couple kiss

Kaun Kahta Hai Ki Chaand Taare Torh Lana Jaruri Hai,
Dil Ko Chhu Jaye Pyar Se Do Lafz, Bahi Kaafi Hain.

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है,
दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़, वही काफ़ी है।

Wo Surkh Honth Aur Un Par Jalim Angdaiyan,
Tu Hi Bata Ye Dil Marta Na To Kya Karta.

वो सुर्ख होंठ और उनपर जालिम अंगडाईयां,
तू ही बता ये दिल मरता ना तो क्या करता।

Sapno Me Bhi Mutthi Band Rakhta Hun,
Kahin Tera Hath Na Chhute Hathon Se.

सपनों में भी मुठ्ठी बंद रखता हूँ,
कहीं तेरा हाथ न छूटे हाथों से।

Ye Udti Julfe Aur Ye Bikhri Muskaan,
Ek Adaa Se Sanbhalu To Dusri Hosh Uda Deti Hai.

ये उड़ती ज़ुल्फें और ये बिखरी मुस्कान,
एक अदा से संभलूँ तो दूसरी होश उड़ा देती है।

Leave a Comment