Mohabbat Ki Talaas Me

Mohabbat Ki Talaas Me

Wo Patthar Kahan Milta Hai Batana Jara-E-Dost,
Jise Log Dil Par Rakhkar Ek Dusre Ko Bhool Jate Hain.

वो पत्थर कहाँ मिलता है बताना जरा ए दोस्त,
जिसे लोग दिल पर रखकर एक दूसरे को भूल जाते हैं।

Two Line Shayari - Wo Patther Kahan Milta Hai

Mohabbat Ki Talaas Me Nikle Ho Tum Are Oh Pagal,
Mohabbat Khud Talaas Karti Hai Jise Barbaad Karna Ho.

मोहब्बत की तलाश में निकले हो तुम अरे ओ पागल,
मोहब्बत खुद तलाश करती है जिसे बर्बाद करना हो।

Pasand Aa Gaye Hain Kuchh Logon Ko Hum,
Kuchh Logon Ko Ye Baat Pasand Nahin Aayi.

पसंद आ गए हैं कुछ लोगों को हम,
कुछ लोगों को ये बात पसंद नहीं आयी।

Ab Judai Ke Safar Ko Mere Aasaan Karo,
Tum Mujhe Khwaab Me Aakar Na Pareshan Karo.

अब जुदाई के सफ़र को मेरे आसान करो,
तुम मुझे ख़्वाब में आकर न परेशान करो।

Is Safar Me Neend Aisi Kho Gayi,
Ham Na Soye Raat Thak Kar So Gayi.

इस सफ़र में नींद ऐसी खो गई,
हम न सोए रात थक कर सो गई।

Leave a Comment