Mulakaat Ka Anzaam Judai

Mulakaat Ka Anzaam Judai

Har Mulakaat Ka Anzaam Judai Kyun Hai?
Ab To Har Waqt Yehi Baat Satati Hai Humein.

हर मुलाकात का अंजाम जुदाई क्यों है?
अब तो हर वक़्त यही बात सताती है हमे।

Har Baat Ko Yaad Karte Hain,
Kabhi Chahat Kabhi Judai Ki Aah Bharte Hain,
Yun To Roz Aap Se Phone Me Baat Karte Hain,
Phir Bhi Mulakat Ka Intzaar Karte Hain.

हर बात को याद करते हैं,
कभी चाहत कभी जुदाई कि आह भरते हैं,
यूँ तो रोज़ आप से फ़ोन में बात करते हैं,
फिर भी मुलाकात का इंतज़ार करते हैं।

Har Dard Se Bada Hai Dard Judaai Ka,
Ek Lamha Jeene Ke Liye 100 Bar Marna Padta Hai.

हर दर्द से बड़ा है दर्द जुदाई का,
एक लम्हा जीने के लिए 100 बार मरना पड़ता है।

Leave a Comment