Najron Ka Khel

Najron Ka Khel

Khoobsurti Na Hi Soorat Me Hoti Hai
Aur Na Hi Libas Me,
Ye To Mahej Jalim Najrokn Ka Khel Hai,
Jise Chaahe Use Haseen Bana De.

खूबसूरती ना ही सूरत में होती है
और ना ही लिबास में,
ये तो महज़ जालिम नजरों का खेल है,
जिसे चाहे उसे हसीन बना दें।

Leave a Comment