Nigahon Me Manjil Thi

Nigahon Me Manjil Thi

Nigahon Me Manjil Thi,
Gire Aur Girkar Sabhlte Rahe,
Hawaon Ne Bahut Koshish Ki,
Magar Chirag Aandhiyon Me Jalte Rahe.

निगाहों में मंजिल थी,
गिरे और गिरकर संभलते रहे,
हवाओं ने बहुत कोशिश की,
मगर चिराग आँधियों में जलते रहे।

Nigahon Me Manjil Thi - Motivational Shayari Hindi

Jo Ho Gaya Use Socha Nahin Karte,
Jo Mil Gaya Use… Khoya Nahin Karte,
Haasil Unhe Hoti Hai Safalta,
Jo Wakt Aur Halaat Par Roya Nahin Karte.

जो हो गया उसे सोचा नहीं करते,
जो मिल गया उसे… खोया नहीं करते,
हासिल उन्हे होती है सफलता,
जो वक्त और हालात पर रोया नहीं करते।

Lahron Ko Shant Dekhkar Ye Mat Samajhna,
Ki Samandar Me Ravani Nahin Hai,
Jab Bhi Uthenge Toofaan Banakar Uthenge,
Abhi Uthne Ki Thani Nahin Hai.

लहरों को शांत देखकर ये मत समझना,
की समंदर में रवानी नहीं है,
जब भी उठेंगे तूफ़ान बनकर उठेंगे,
अभी उठने की ठानी नहीं है।

Leave a Comment