Pyar Ki Shuruat Ho Rahi

Pyar Ki Shuruat Ho Rahi

Very Romantic Love Poetry for Girlfriend-

Ruke Se Hum Ruke Se Tum Aur Zamana Barh Gaya,
Ye Tera Dil Mere Dil Me Jane Kab Utar Gaya,
Abhi To Pyar Ki Shuruat Ho Rahi Hai Sanam,
Abhi Se Hi Dil Mera Tera Thhikana Ban Gaya,
Tum Mile Tu Yun Laga Mil Gaya Mera Khuda,
Nazrein Mili Tumse Meri Aur Fasana Ban Gaya.

रुके से हम रुके से तुम और जमाना बढ़ गया,
ये तेरा दिल मेरे दिल में जाने कब उतर गया,
अभी तो प्यार की शुरुरात हो रही है सनम,
अभी से ही दिल मेरा तेरा ठिकाना बन गया,
तुम मिले तो यूँ लगा मिल गया मेरा खुदा,
नज़रें मिली तुमसे मेरी और फ़साना बन गया।

Leave a Comment