Seene Se Lagkar Tere

Seene Se Lagkar Tere

Tere Seene Se Lagkar Teri Aarzoo Ban Jaun,
Teri Saanso Se Milkar Teri Khushbu Ban Jaun,
Faasle Na Rahein Koi Tere Mere Darmiyan,
Main Main Na Rahun Bas Tu Hi Tu Ban Jaun.

तेरे सीने से लगकर तेरी आरज़ू बन जाऊ,
तेरी साँसों से मिलकर तेरी खुशबू बन जाऊ,
फासले न रहें कोई तेरे मेरे दरमियाँ,
मैं मैं न रहूँ बस तू ही तू बन जाए।

Teri Aarzoo Ban Jaaun - Best Aarzoo Shayari

Umeedon Ke Daaman Mein Zinda Hain Hum,
Warna Jeene Ki Chahat Kahan,
Tumse Milne Ki Aarzoo Liye Firte Hain Dar-B-Dar,
Warna Is Laash Ke Naseeb Me Kabar Kahan.

उम्मीदों के दामन में जिंदा हैं हम,
वरना जीने की चाहत कहाँ,
तुमसे मिलने की आरज़ू लिए फिरते हैं दर-ब-दर,
वरना इस लाश के नसीब में कब्र कहाँ।

Is Zindagi Ko Jeene Ki Aarzoo,
Bin Tere Hai Adhuri,
Tera Sath Jo Mil Jaye,
Meri Zindagi Ho Jaye Puri.

इस ज़िन्दगी को जीने की आरज़ू,
बिन तेरे है अधूरी,
तेरा साथ जो मिल जाए,
मेरी ज़िन्दगी हो जाए पूरी।

Na Kisi Ke Dil Ki Hun Aarzoo
Na Ksis Najar Ki Hun Justju,
Main Wo Phool Hun Jo Udaas Hai
Na Bahar Aaye To Kya Karun.

न किसी के दिल की हूँ आरज़ू
न किसी नज़र की हूँ जुस्तजू,
मैं वो फूल हूँ जो उदास है
न बहार आए तो क्या करूँ।

Leave a Comment