Shayari about Love, Bas Tum Ho

Shayari about Love, Bas Tum Ho

Tumhari Khushiyon Ke Thikane Bahut Honge Magar,
Hamari Bechainiyon Ki Vajah… Bas Tum Ho.

तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे मगर,
हमारी बेचैनियों की वजह… बस तुम हो।

Love Shayari - Bas Tum Ho

Neend Se Uth Kar Idhar-Udhar Dhoondhti Rahti Hoon Main,
Ki Khwabo Mein Mere Itne Kareeb Chale Aate Ho Tum.

नींद से उठ कर इधर-उधर ढूँढती रहती हूँ मै,
कि ख्वाबो में मेरे इतने करीब चले आते हो तुम।

Unki Mohabbat‬ Ka Ab Kaise ‪Hisaab‬ Ho,
Pagli ‪Gale‬ Laga Ke Kahti Hai, Aap Bade ‪Kharab‬ Ho.

उनकी मोहब्बत‬ का अब कैसे ‪हिसाब‬ हो,
पगली ‪गले‬ लगा के कहती है, आप बड़े ‪खराब‬ हो।

Mere Ghar Ki Dar-O-Deevaar Par Ab Aaina Nahin,
Teri #Nigaahon Mein Hi Khud Ko Pa Liya Maine.

मेरे घर की दर-ओ-दीवार पर अब आइना नहीं,
तेरी #निगाहों में ही खुद को पा लिया मैंने।

Aapki Aankhon Mein Mera Intazaar Hai To Jata Do Hame,
Gar Aapako Bhi Ishq Hai To Khulke Bata Do Hame.

आपकी आँखों में मेरा इंतज़ार है तो जता दो हमे,
गर आपको भी इश्क़ है तो खुलके बता दो हमे।

Tere Pyaar Ne Sarakari Daphtar Bana Diya Is Dil Ko,
Na Koi Kaam Karata Hai… Na Koi Baat Sunta Hai.

तेरे प्यार ने सरकारी दफ्तर बना दिया इस दिल को,
ना कोई काम करता है… ना कोई बात सुनता है।

Leave a Comment