Taqdir Hi Bewafa Hai

Taqdir Hi Bewafa Hai

Ishq Karna To Lagta Hai Jaise,
Mout Se Bhi Badi Ek Sazaa Hai,
Kya Kisi Se Shikayat Karein Hum,
Jab Apni Taqdeer Hi Bewafa Hai.

इश्क करना तो लगता है जैसे,
मौत से भी बड़ी एक सजा है,
क्या किसी से शिकायत करें हम,
जब अपनी तकदीर ही बेवफा निकली

Leave a Comment