Thokar Na Maar

Thokar Na Maar

Thokar Na Maar Mujhe Patthar Nahi Hun Main,
Hairat Se Na Dekh Mujhe Manzar Nahi Hun Main.
Teri Nazaron Me Meri Kadar Kuch Bhi Nahi,
Magar Meri Maa Se Pooch Uske Liye Kya Nahi Hun Main.

ठोकर न मार मुझे पत्थर नहीं हूँ मैं,
हैरत से न देख मुझे मंज़र नहीं हूँ मैं,
तेरी नज़रों में मेरी क़दर कुछ भी नहीं,
मगर मेरी माँ से पूछ उसके लिए क्या नहीं हूँ मैं।

Leave a Comment