Yaadein Shayari, Wo Yaaden Hi Kya

Yaadein Shayari, Wo Yaaden Hi Kya

Wo Zindagi Hi Kya Jisme Mohabbat Nahin,
Wo Mohabbat Hi Kya Jisme Yaaden Nahin,
Wo Yaadein Hi Kya Jisme Tum Nahin,
Aur Wo Tum Hi Kya Jiske Saath Hum Nahin.

वो जिंदगी ही क्या जिसमें मोहब्बत नहीं,
वो मोहब्बत ही क्या जिसमें यादें नहीं,
वो यादें ही क्या जिसमें तुम नहीं,
और वो तुम ही क्या जिसके साथ हम नहीं।

wo yaadein, girl missing somone

Akelepan Ka ilaaj Hoti Hain Yaadein,
Bahut Hi Haseen Si Hoti Hain Yaadein,
Yun Toh Bolne Ko Kuchh Bhi Nahi Hai,
Par Maane To Apna Hi Saaya Hain Yaadein.

अकेलेपन का इलाज़ होती हैं यादें,
बहुत ही हसीन सी होती हैं यादें,
यूँ तो बोलने को कुछ भी नहीं हैं,
पर माने तो अपना ही साया हैं यादें।

Har Waqt Teri Yaadein Tadpaati Hain,
Akhir Itna Kyu Ye Satati Hain Mujhe,
Ishq To Kiya Tha Tumne Bhi Shauk Se,
To Kyu Nahi Ye Ehsaas Dilati Hain Tujhe.

हर वक़्त तेरी यादें तड़पाती हैं मुझे,
आखिर इतना क्यों ये सताती हैं मुझे,
इश्क तो किया था तुमने भी शौंक से,
तो क्यों नहीं यह एहसास दिलाती हैं तुझे।

Leave a Comment