Yaadein Shayari, Yaad Aate Kyun Ho

Yaadein Shayari, Yaad Aate Kyun Ho

Kyun Karte Ho Mere Dil Par Itna Sitam,
Yaad Karte Nahi To Yaad Aate Kyun Ho?

क्यों करते हो मेरे दिल पर इतना सितम,
याद करते नहीं तो याद आते क्यों हो?

girl missing lot someone

Aaj Muskurane Ki Himmat Nahi Mujh Me,
Aaj Toot Kar Mujhe Tere Yaad Aa Rahi Hai.

आज मुस्कुराने की हिम्मत नहीं मुझ में..
आज टूट कर मुझे तेरी याद आ रही है..

Sirf Khwaabo Se Hi Nahi Milta Sukun Sone Ka,
Kisi Ki Yaad Me Jagne Ka Maza Hi Kuchh Aur Hai.

सिर्फ ख्वाबो से ही नही मिलता सुकुन सोने का,
किसी की याद मे जागने का मजा ही कुछ और है।

Achha Ek Sigret Pee Ke Aata Hun,
Ek Yaad Fasi Hai Use Dhuyen Me Udah Ke Aata Hun.

अच्छा एक सिगरेटे पी के आता हूँ,
एक याद फसी है उसे धुए में उड़ा के आता हूँ।

Leave a Comment