Ye Khwab Jhuthe Hain

Ye Khwab Jhuthe Hain

Janta Hun Ye Khwab Jhuthe Hain Khwahishe Adhuri Hain,
Par Zinda Rahne Ko Galat Fehmiyan Bhi Jaruri Hain.

जानता हूँ ये ख्वाब झूठे हैं ख्वाहिसे अधूरी हैं,
पर जिंदा रहने को गलत फेह्मियां भी जरुरी हैं।

Leave a Comment