Ye Pyaar Na Hota

Ye Pyaar Na Hota

Kaash Unhen Chahane Ka Aramaan Na Hota,
Main Hosh Mein Hote Hue Anajaan Na Hota,
Ye Pyaar Na Hota, Patthar Dil Se Hamen,
Ya Vo Patthar Dil Inasaan Na Hota.

काश उन्हें चाहने का अरमान नही होता,
मैं होश में होकर भी अंजान नही होता,
ये प्यार ना होता, किसी पत्थर दिल से,
या फिर कोई पत्थर दिल इंसान ना होता।

kaash shayari, unhe chahne ka arman

Kaash Aapki Surat Itni Pyaari Na Hoti,
Kaash Aapse Mulaqat Hamaari Na Hoti,
Sapno Mein Hi Dekh Lete Aapko Agar,
To Aapse Milne Ki Itni Bekarari Na Hoti.

काश आपकी सूरत इतनी प्यारी न होती,
काश आपसे मुलाकात हमारी न होती,
सपनो में ही देख लेते आपको अगर,
तो आपसे मिलने कि इतनी बेकरारी न होती।

Yun Hi Nahi Roz Kisi Ka Intezaar Hota Hai,
Yun Hi Nahi Roz Yeh Dil Bekaraar Hota Hai,
Kaash… Ke Koi Samajh Paata Ki,
Chup Rehne Walon Ko Bhi Kisi Se Pyar Hota Hai.

यूँ ही नहीं रोज़ किसी का इंतज़ार होता है,
यूँ ही नहीं रोज़ ये दिल बेक़रार होता है,
काश… के कोई समझ पाता कि,
चुप रहने वालो को भी किसी से प्यार होता है।

Kaash Shayari,Yun Hi Nahi Roj

Kaash Yaadon Ka Matlab Wo Samajhte,
Kaash Khwabon Ka Matlab Wo Samajhte,
Nazar Milti Hai Hazaar Nazron Se,
Kaash Humari Nazar Ka Matlab Wo Samajhte।

काश यादों का मतलब वो समझते,
काश ख्वाबों का मतलब वो समझते,
नजर मिलती है हज़ार नजरो से,
काश हमारी नजर का मतलब वो समझते।

Leave a Comment