Zindagi Bhor Hai

Zindagi Bhor Hai

Hoke Mayus Na Yun Sham Se Dhalte Rahiye
Zindagi Bhor Hai Suraj Sa Nikalte Rahiye.

होके मायूस न यूं शाम से ढलते रहिये,
जिन्दगी भोर है सूरज सा निकलते रहिये।

Yaqeen Ho To Koi Rasta Nikalta Hai,
Hawa Ki Ot Bhi Le Kar Charaag Jalta Hai.

यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है,
हवा की ओट भी ले कर चराग़ जलता है।

Hawa Ki Ot Lekar - Motivational Shayari

Bhookha Pet Khaali Jeb Aur Jhootha Prem,
Insaan Ko Bahut Kuch Sikha Jata Hai.

भूखा पेट, खाली ज़ेब और झूठा प्रेम,
इंसान को बहुत कुछ सिखा जाता है।

Koshish Bhi Kar Umeed Bhi Rakh Rasta Bhi Chun,
Phir Is Ke Baad Thoda Muqaddar Talaash Kar.

कोशिश भी कर उमीद भी रख रास्ता भी चुन,
फिर इस के बाद थोड़ा मुक़द्दर तलाश कर।

Lakeeren Kheenchte Rahane Se Ban Gai Tasveer,
Koi Bhi Kaam Ho, Be-Kaar Thodi Hota Hai.

लकीरें खींचते रहने से बन गई तस्वीर,
कोई भी काम हो, बे-कार थोड़ी होता है।

Leave a Comment