Zindagi Ke Har Pahlu Me Maa

Zindagi Ke Har Pahlu Me Maa

Khushi Me Maa, Gham Me Maa,
Zindagi Ke Har Pahlu Me Maa,
Dard Ko Bhaap Le, Aansuon Ko Naap Le,
Zindagi Ke Har Kadam Par,
Mushkilo Ko Dhaak Le,
God Me Sulakar Jab Apni Ek Thaap De,
Duniya Swarg Lage, Maa Neend Me Bhi Jhaak Le,
Jab Bhi Tujhse Door Jaaun, Maa Dar Se Kaap Le,
Chot Jab Mujhko Lage,
Maa Dooriyon Se Maap Le,
Maa Bas Maa Ek Hi Naam
Har Kadam Par Jaap Le…..

खुशी में माँ, ग़म में माँ,
ज़िन्दगी के हर पहलू में माँ,
दर्द को भाप ले, आंसुओं को नाप ले,
ज़िन्दगी के हर कदम पर,
मुश्किलों को ढाक ले,
गोद में सुलाकर जब अपनी एक थाप दे,
दुनिया स्वर्ग लगे, माँ नींद में भी झांक ले,
जब भी तुझसे दूर जाऊं, माँ डर से कांप ले,
चोट जब मुझको लगे,
माँ दूरियों से माप ले,
माँ बस माँ एक ही नाम
हर कदम पर जाप ले…..

Leave a Comment