Maa Bahut Gusse Mein

Maa Bahut Gusse Mein

Maa Shayari - Maa Gusse Mein

Kuchh Iss Tarah Mere Gunaaho Ko Dho Deti Hai,
Maa Bahut Gusse Mein Hoti Hai Toh Ro Deti Hai.

कुछ इस तरह वो मेरे गुनाहों को धो देती है,
माँ बहुत गुस्से मे होती है तो रो देती है।

Leave a Comment