Main Sajda Na Karun

Main Sajda Na Karun

Wo Waqt Gujar Gaya Jab Mujhe Teri Aarzoo Thi,
Ab Tu Khuda Bhi Ban Jaaye To Main Sajda Na Karun.

वो वक़्त गुजर गया जब मुझे तेरी आरज़ू थी,
अब तू खुदा भी बन जाए तो मै सजदा न करूँ।

New Aarzoo Shayari Hindi - Main Sajda Na Karun

Khushi Ke Motiyon Me Lab Wo Dabaate Rahe,
Aankhon Ko Kabhi Jhukaate Aur Kabhi Milate Rahe,
Lab Pe Na Wo Laye Kabhi Ikraar Aur Na Inkaar Hi Kiya,
Tamam Umr Ishq Ki Justju Me, Apni Aarzoo Ko Rulaate Rahe.

खुशी के मोतिओं में लब वो दबाते रहे,
आँखों को कभी झुकाते और कभी मिलाते रहे,
लब पर न वो लाये कभी इकरार और न इंकार ही किया,
तमाम उम्र इश्क की जुस्तजू में, अपनी आरज़ू को रुलाते रहे।

Tamana Hai Meri Ki Aapki Aarzoo Ban Jaun,
Aapki Aankh Ka Tara Na Sahi Aapki Aankh Ka Aansu Ban Jaun,
Main Aap Ki Zindagi Ki Khushi Banu Ya Na Ban Sakun,
Aapke Gham Mein Aapka Sahara Ban Jaun.

तमन्ना है मेरी कि तेरी आरज़ू बन जाऊं,
आपकी आँख का तारा न सही आपकी आँख का आँसू बन जाऊं
मैं आपकी ज़िन्दगी की खुशी बनू या न बन सकूँ,
आपके गम में आपका सहारा बन जाऊं।

Aarzoo Ye Nahi Ki Gham Ka Tufaan Tal Jaye,
Fikr To Ye Hai Ki Kahin Aapka Dil Na Badal Jaye,
Kabhi Mujhko Agar Bhulana Chaho To,
Dard Itna Dena Ki Mera Dum Nikal Jaaye.

आरज़ू ये नहीं कि ग़म का तूफ़ान टल जाये,
फ़िक्र तो ये है कि कहीं आपका दिल न बदल जाये
कभी मुझको अगर भुलाना चाहो तो,
दर्द इतना देना कि मेरा दम ही निकल जाये।

Tera Khayal Teri Aarzoo Na Gayi,
Mere Dil Se Teri Justju Na Gayi,
Ishq Me Sab Kuchh Luta Diya Hanskar Maine,
Magar Tere Pyar Ki Aarzoo Na Gayi.

तेरा ख़याल तेरी आरजू न गयी,
मेरे दिल से तेरी जुस्तजू न गयी,
इश्क में सब कुछ लुटा दिया हँसकर मैंने,
मगर तेरे प्यार की आरजू न गयी।

Leave a Comment