Mohabbat Ek Ehsaason Ki

Mohabbat Ek Ehsaason Ki

Mohabbat Ek Ehsaaso Ki, Pawan Si Kahani Hai,
Kabhi Kabira Diwana Tha, Kabhi Mira Diwani Hai,
Yahan Sab Log Kehte Hain Meri Aankho Me Aansu Hain,
Jo Tu Samjhe To Moti Hai, Jo Na Samjhe To Pani Hai.

मोहब्बत एक एहसासों की, पावन सी कहानी है,
कभी कबीरा दीवाना था, कभी मीरा दीवानी है,
यहाँ सब लोग कहते हैं मेरी आँखों में आँसू हैं,
जो तू समझे तो मोती है, जो न समझे तो पानी है।

Leave a Comment